Lyrics of Salaam Aaqa Lelo Salaam Ab Hamara.

Lyrics of Salaam ‘Aaqa Lelo Salaam Ab Hamara’ in Hindi Transliteration:

Aaka lelo salaam ab hamara,
Aaka lelo salaam ab hamara,
Saba tu madine jaake, Saba tu madine jaake,
Kehna khudara.

आका लेलो सलाम अब हमारा,
आका लेलो सलाम अब हमारा,
सबा तू मदीने जाके, सबा तू मदीने जाके,
कहना खुदारा।

Chaand ke tukde kiye, Pedon ne sajde kiye,
Sooraj palat aa gaya, Ye mojaze aapke,
Ummati kya khud khuda hai, Ummati kya khud khuda hai,
Shayda tumhara.

चाँद के टुकड़े किये, पेड़ों ने सजदे किये,
सूरज पलट आ गया, ये मोजज़े आपके,
उम्मती क्या खुद खुदा है, उम्मती क्या खुद खुदा है,
शयदा तुम्हारा।

Gham se hain toote hue, Zulmon mein doobe hue,
Muddat hui ya nahi, Kismat ko roothe hue,
Roze maheshar ummati ka, Roze maheshar ummati ka,
Aap hi sahara.

ग़म से हैं टूटे हुए, ज़ुल्मों में डूबे हुए,
मुद्दत हुई या नबी, किस्मत को रूठे हुए,
रोज़े महेशर उम्मती का, रोज़े महेशर उम्मति का,
आप ही सहारा।

Noore khuda aap hain, Shahe khuda aap hain,
Ae sarvare ambiya, Pehre sakha aap hain,
Ye hai azmat rab ne tumpar, Ye hai azmat rab ne tumpar,
Quraan utara.

नूरे खुदा आप हैं, शाहे खुदा आप हैं,
ऐ सरवरे अम्बिया, पहरे सखा आप हैं,
ये है अजमत रबने तुमपर, ये है अजमत रबने तुमपर,
कुरआन उतारा।

Din raat roti hai ye, Ummat tumhare liye,
Ho jaaye nare karam, Aaka hamare liye,
Taibah ki wo galiyon ka kab, Taibah ki wo galiyon ka kab,
Hoga nazara.

दिन रात रोती है ये, उम्मत तुम्हारे लिए,
हो जाये नज़रे करम, आका हमारे लिए,
तयबा की वो गलियों का कब, तयबा की वो गलियों का कब,
होगा नज़ारा।