Lyrics of Salaam Ya Nabi Salaam Alaika.

Lyrics of Salaam ‘Yaa Nabi Salaam Alaika’ with Hindi Transliteration:

या नबी सलाम अलैका, या रसूल सलाम अलैका,
या हबीब सलाम अलैका, सलवा तुल्ला अलैका।

भेज दो अपनी अताएं, बक्श दो सबकी खताएं,
दूर हो ग़म की घटाएँ, वज्द में हम यूँ सुनाएँ।

जब नबी पैदा हुए थे, सब मालक दर पे खड़े थे,
बाअदब यूँ कह रहे थे, रब्बे सल्लिम पढ़ रहे थे।

आपका तशरीफ़ लाना, वक़्त भी कितना सुहाना,
जगमगा उठा ज़माना, हूरें गाती थी तराना .

रहमतों के ताजवाले, दो जहां के राज़वाले,
अर्श के मेहराजवाले, आसियों की लाजवले।

पूरी या रब ये दुआ कर, हम डरे मौला पे जाकर,
पहले कुछ नातें सुनाकर, ये पढ़ें सरको झुकाकर।

बक्श दो जो चीज़ चाहो, क्यों के महबूबे खुदा हो,
आपतो बाबे सखा हो, हाँ मुझे भी कुछ अता हो।

जान कर काफी सहारा, ले लिया है दर तुम्हारा,
खल्क के वारिस खुदारा , लो सलाम अब तो हमारा।

ऐ मेरे मौला के प्यारे, नूर की आँखों के तारे,
अब किसे सैय्यद पुकारें, हम तुम्हारे तुम हमारे।

वास्ता गौसुल वरा का, वास्ता खाजा पिया का,
वास्ता कुल औलिया का, ग़म न हो रोज़े जज़ा का।

सुबह लूँगा शाम लूँगा, तेरा प्यार नाम लूँगा,
कब्र से उठते ही आका, तेरा दामन थाम लूँगा।